Allgazabpost

एक व्यक्ति नहीं बल्कि यहां पूरा गांव ही सोता हैं, कई महिनों तक

कुंभकरण की कहानी तो आप सभी ने सुनी ही होगी कि वो पूरे साल में लगभग छह महिनों तक सोया रहता था लेकिन यह कहानी आज के समय की तो है नहीं यह कहानी तो सदीयों पुरानी है। लेकिन अगर आज के इस युग में भी कुंभकरण की तरह कुछ लोग हो तो आप क्या कहेगें। जी हां हमारे इस बदलते युग में कुछ ऐसे भी लोग मौजूद है जो अपनी अनोखी विशेषताओं के साथ सभी को हैरान कर रहे है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे है जहां के लोग कई महिनों तक सोते रहते है।

उत्‍तरी कजाकिस्तान (Kazakhstan) के कलाची (Kalachi) गांव को अगर आप देखेगे तो आपको यह गांव हैरान कर देगा। यहा रहने वाले लोग कई महीनों तक सोते रहते है। वैसे आपको बता दे कि यह समस्या सालो पूरानी नहीं है बल्कि इस गांव में रहने वाले लोग लगभग 2010 से इस समस्या का सामना कर रहे है। आज तक कई वैज्ञानिक इस गांव में इस समस्या का पता लगाने के लिए गए परन्तु कोई भी इस समस्या का हल नहीं खोज पाया है।

Image Source:

इस गांव में रह रहा हर व्यक्ति इस समस्या का सामना कर रहा है इतना ही नहीं यह रह रहे लोगों को तो यह भी नहीं पता होता है कि वे कब सो जाते है। कई बार तो लोग कार्य करते-करते ही सो जाते है और फिर उन्हें कोई भी नहीं उठा पाता है और जब कोई सो जाता है तो उसकी नींद फिर महिनों के बाद ही खुलती है। इस समस्या को अगर नींद की बीमारी कहा जाए या कुछ और पर इस गांव रह रहने वाले हर व्यक्ति को आप-पास के क्षेत्र के लोग ‘स्‍लीपी हॉलो’ कह कर पुकारते है।

यहां आए विज्ञानिको ने बताया हैं कि इस गांव के हर व्यक्ति के मस्तिष्क में एक तरल पदार्थ उत्पन होने लगता है और यह तरल पदार्थ बहुत ही तेजी से बढ़ने लगता है। जिसके बाद यह व्यक्ति एक गरही नींद में चले जाते हैं। इस तरल पदार्थ के विषय में व इसके तेजी से बढ़ने के विषय में कोई भी विज्ञानीक कुछ नहीं जान पाया है। लेकिन यह रह रहे लोगों इस समस्या से बहुत परेशान है। इस गांव में रह रहे लोगों की जनसंख्या का लगभग 14% भाग इस समस्या का सामना कर रहा हैं और दिन-प्रति-दिन यह समस्या बढ़ती ही जा रही है।

Upasana Bhatt

मुझे लिखना बहुत पसंद हैं, और मेरे विचार व मेरी सोच मेरी कलम से निकले शब्दों के माध्यम से प्रकट होते है।

Add comment

Advertisement

Allgazabpost_Authors

Upasana Bhatt

मुझे लिखना बहुत पसंद हैं, और मेरे विचार व मेरी सोच मेरी कलम से निकले शब्दों के माध्यम से प्रकट होते है।

Follow Me

For more updates.

Advertisement